स्वास्थ्य

श्रम और रोजगार मंत्रालय

लेबर ब्यूरो, चंडीगढ़ ने 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए कोविशील्ड टीकाकरण हेतु आज अपने परिसर में पहले टीकाकरण शिविर का आयोजन किया। शिविर में कुल 30 लोगों को कोविशील्ड टीका लगाया गया, जिसमें लेबर ब्यूरो और भुगतान एवं लेखा कार्यालय के अधिकारी तथा चंडीगढ़ के लेबर ब्यूरो और प्रमुख श्रम आयुक्त चंडीगढ़ तथा उनके परिवार के सदस्य शामिल थे। इस शिविर का आयोजन चंडीगढ़ के स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से किया गया। स्वास्थ्य विभाग ने इस टीकाकरण अभियान के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की एक समर्पित टीम को तैनात किया था और यह पूरी प्रक्रिया एक डॉक्टर की देखरेख में सम्पन्न हुई।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00180VS.jpg

 

लेबर ब्यूरो कार्यालय से संबंधित सभी सदस्यों और उनके परिवार के सभी सदस्यों से टीका लगवाने का आह्वान करते हुए लेबर ब्यूरो के महानिदेशक श्री डी.पी.एस. नेगी ने इस टीकाकरण अभियान के महत्व पर जोर डालते हुए कहा कि टीकाकरण का अर्थ सिर्फ इतना नहीं है कि कोई भी व्यक्ति इस वायरस से सुरक्षित होगा बल्कि इससे यह भी सुनिश्चित होता है कि टीकाकरण के बाद कोई भी व्यक्ति भविष्य में इस संक्रमण को फैलाने वालों में शामिल नहीं होगा। उन्होंने आगे कहा कि जब कोई व्यक्ति टीका लगवा लेता है तो वह न सिर्फ स्वयं को इस घातक जानलेवा वायरस से सुरक्षित करता है बल्कि अपने परिवार के सदस्यों को भी सुरक्षित करता है और इसके परिणामस्वरूप कर्मचारी और अधिक समर्पण भाव तथा आत्मविश्वास के साथ अपनी सेवा में लग जाता है। श्री नेगी ने टीकाकरण के संबंध में किसी तरह के भ्रम या आशंका से दूर रहकर टीकाकरण करवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि टीकाकरण इस समय सबसे बड़ा सामाजिक कार्य है क्योंकि यह वायरस के संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने में मददगार होता है जो कि इस समय की सबसे बड़ी आवश्यकता है।

****

    Mohd Aman

    Editor in Chief Approved by Indian Government

    Related Articles

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Back to top button